Call or email us for advertisements

Phone: +919031336669

Email: khabarkhandnews@gmail.com

पूर्व मंत्री सरयू राय ने पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास पर लगाए भ्रष्टाचार के कथित आरोप

Reported By : Desk

Published On : July 6, 2021

क्या है इसकी सच्चाई आइए जानते हैं

जमशेदपुर पूर्वी के विधायक व राज्य के पूर्व मंत्री सरयू राय ने पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ यह आरोप लगाया है कि उन्होंने मुख्यमंत्री रहते हुए सरकारी राशि का दुरुपयोग किया है और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से इसकी भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) से जांच कराने की मांग भी की है। इस संबंध में श्री राय ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखा है, जिसमें कहा है कि तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास द्वारा एक सुनियोजित साजिश के तहत झारखण्ड राज्य स्थापना दिवस समारोह, 2016 के कार्यक्रम की आड़ में सरकारी खजाना के पैसे से अपने निजी कार्यक्रम में व्यय का भुगतान किया है इसकी भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) से जांच कराए जाए । पत्र के अनुसार झारखंड राज्य स्थापना दिवस समारोह, 2016 के आयोजन में पाश्र्व गायिका सुनिधि चौहान को बुलाने से संबंधित सरकार की एक संचिका के तीन पृष्ठ और इस संबंध में रांची के उपायुक्त का एक पत्र मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुत किया गया है। पत्र में कहा गया है कि संचिका में विभागीय सचिव की टिप्पणी और विभाग को प्रेषित उपायुक्त, रांची के पत्र में अंकित विवरण तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास के भ्रष्ट आचरण की एक बानगी है। उन्होंने बताया कि 24 दिन पहले तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास की अध्यक्षता में हुई बैठक में राज्य के सभी मध्य विद्यालय के बच्चों को टी-शर्ट व मिठाई का पैकेट बांटने का फैसला लिया गया था। आपूर्तिकर्ता का चयन मनोनयन के आधार पर करने के लिए नियम शिथिल किये गये थे। इसके लिए 10 करोड़ अग्रिम राशि निकालने का फैसला लिया गया था जिसमें तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास ने हस्ताक्षर किये थे विधायक श्री राय ने पूरे मामले में बरती गयी अनियमितता की पूरी जानकारी मुख्यमंत्री को पत्र में दी है।

बता दें कि स्थापना दिवस के मौके पर पांच करोड़ की टी-शर्ट और 35 लाख रुपये की टॉफी की खरीद हुई थी़ स्थापना दिवस 2016 के अवसर पर केवल टॉफी और टी-शर्ट की खरीद व आपूर्ति में ही भ्रष्टाचार नहीं हुआ बल्कि दूसरे मदों में भी घपला हुआ है़
सरयू राय ने झारखंड राज्य स्थापना दिवस में सुनिधि चौहान के एक परफॉर्मेंस के लिए दिए गए एक भुगतान पर सवाल उठाए हैं।उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि 2016 में छठ पर्व पर जमशेदपुर में फि‍ल्म गायिका सुनिधि चौहान का कार्यक्रम हुआ था, आयोजक बताएं कि उन्होंने इसका कितना भुगतान किया? पर इसके एक सप्ताह बाद सुनिधि चौहान का गायन कार्यक्रम राज्य स्थापना दिवस – 2016, पर रांची में हुआ जिसके लिए राज्य सरकार ने करीब 57 लाख का भुगतान किया।

पत्र के अनुसार 6 नवंबर 2016 को छठ पर्व था ।उस समय सूर्य मंदिर समिति के संरक्षक और सर्वेसर्वा पूर्व मंत्री रघुवर दास थे। इस कार्यक्रम के तीन दिन बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास के निर्देश पर राँची में एक बैठक बुलायी गई थी यह बैठक रघुवर दास की अध्यक्षता में हुई। पत्र में कहा गया है कि बैठक 15 नवम्बर 2016 को आयोजित होनेवाले झारखंड स्थापना दिवस समारोह की तैयारी की समीक्षा के बहाने बुलाई गयी थी ।बैठक में मुख्यमंत्री के वरीय आप्त सचिव ने प्रस्ताव रखा कि स्थापना दिवस समारोह के कार्यक्रम को अधिक भव्य बनाने के लिये इसमें सुनिधि चौहान को बुलाया जाये। कला संस्कृति विभाग के कार्यक्रम के बाद उनका कार्यक्रम रखा जाये।
उन्हें बुलाने का जिम्मा आर्चर इंटरटेनमेंट प्रा लि नामक एक संस्था को दिया जाये। इस प्रस्ताव के अनुसार सुनिधि चौहान के कार्यक्रम पर कुल 44,27,500/- रूपया व्यय होगा। प्रस्ताव पर निर्णय हो गया। फाईल पर मुख्यमंत्री की सहमति हो गई थी। इसके लिये आर्चर इंटरटेनमेंट को प्राथमिकता के आधार पर 44,27,500/- रुपये का त्वरित भुगतान भी हो गया। अग्रिम भुगतान करने की संचिका पर मुख्यमंत्री का अनुमोदन भी हो गया।बाद में उपायुक्त, राँची ने पत्र के माध्यम से सचिव, मंत्रिमंडल सचिवालय एवं समन्वय विभाग को सुनिधि चौहान के कार्यक्रम पर हुए व्यय का हिसाब भेजा (पत्र संलग्न) तो पता चला कि इसके लिये तय इस पर कुल व्यय 44,27,500/- रुपये की जगह कुल व्यय 55,25,281/- रुपया हुआ है। 44,27,500/- रुपये तो आर्चर इंटरटेनमेंट ने सुनिधि चौहान के नाम पर सीधे सरकार से ले लिया। अब यह कहना मुश्किल है कि इसमें से सुनिधि चौहान को कितना मिला।


Khabar Khand

The Khabar Khand. Opinion of Democracy

Related Posts

नहीं रहे फर्राटा धावक मिल्खा सिंह, हाल में दी थी कोरोना को मात

भारत के महान फर्राटा धावक मिल्खा सिंह का एक महीने तक कोरोना संक्रमण से जूझने के बाद शुक्रवार (18 जून) को निधन हो गया। उनके परिवार के एक प्रवक्ता ने…

June 19, 2021

मेडीकल इक्विपमेंट्स की खरीदारी पर 10 लाख से भी अधिक के सायबर क्राइम के शिकार हुए अशोक

ऑनलाइन के इस ट्रेंड में चीज़े जितनी आसान हुई है, वहीं ऑनलाइन फ्रॉड व साइबर क्राइम की संभावना भी अधिक हो गई है। इसी तरह ऑनलाइन मेडिकल इक्विपमेंट्स की खरीदारी…

June 17, 2021

पत्रकार की हत्या पर शुरू हुई यूपी में राजनीति, पुलिस सड़क हादसा तो विपक्ष बता रहा शराब माफियों की साजिश

इन दिनों उत्तर प्रदेश में एबीपी के पत्रकार की संदेहास्पद स्थिति में मौत का विषय काफी राजनीतिक सुर्खियां भी बटोर रहा है। दरअसल, सुलभ श्रीवास्तव ने अपने मौत के ठीक…

June 14, 2021